अर्नेस्ट रिनान

img_alt6

38
  • वो सुबूत जो स्वयं बताये
  • इसबात की संभावना है कि हर वह अंश जिस से हम प्रेम करते हैं, वह नष्ट हो जाय, और यह भी संभावना कि बुध्दि, विज्ञान, और उद्योग के उपयोग की स्वतंत्रता समाप्त हो जाय। लेकिन यह असंभव है कि धार्मिकता मिठ जाय बल्कि यह ऐसे भैतिकवाद के गलत होने पर स्वयं सुबूत है जो मानव को स्थलीय जीवन के अमूल्य मार्ग के अंतर्गत बाँध रखे


  • विशवास और जीवन
  • विशवास वह शक्ती है, जिसकी सहायता होना मानव के जीवन के लिए ज़रूरी है। और विशवास का खोना जीवन के कष्टों का सामना करने से कमज़ोर होने के समान है।











 अल्लाह तआला अर्रज़्जाक़ है..