अल्लाह तआला अल अफ्व,अल ग़फूर और अल ग़फ्फार है..

 अल्लाह तआला अल अफ्व,अल ग़फूर और अल ग़फ्फार है..

66

अल्लाह तआला अल अफ्व,अल ग़फूर और अल ग़फ्फार है..

बेशक अल्लाह तआला अल अफ्व और अल ग़फ्फार है.. {बेशक अल्लाह तआला माफ करने वाला अधिक क्षमा करने वाला है“।}[अल हज्जः 60].

बेशक अल्लाह तआला अल अफ्व अल ग़फूर और अल ग़फ्फार है..

वह ज़ात जो हमेशा हमेश से अपनी क्षमा से जानी पहचानी जाती है,और जिस में अपने बंदों को माफ करने और उन्हें दरगुज़र करने की विशेषता पाई जाती है,हर एक उस की क्षमा और माफी की मुहताज है जैसे हर एक चीज़ उस की दया और करम की मुहताज है।

हे वह ज़ात जिस ने उस व्यक्ति के लिये क्षमा करने का वादा किया है जो क्षमा के कारणों को अपनाये,अल्लाह तआला ने फरमायाः {और बेशक मैं उन्हें माफ कर देने वाला हूँ जो माफी माँगें,ईमान लायंे,नेकी के काम करें और सीधे रास्ते पर भी रहें“।}[ताहाः 82].

हे क्षमा करने वाले हम तुझ से इस बात के सवाली हैं कि तू हमें सच्ची तोबा की तौफिक दे, जिस के बाद हम गुनाहों से दूर हो जायें, और उसे छोड़ दें,और जो कुछ हमने ग़लत और पाप किया है उस पर शर्मिंदा हैं,और तेरी फरमाबरदारी करने का और तेरी नाफरमानी न करने का पुखता इरादा कर लें,हे क्षमा करने वाले हमें क्षमा कर दे।

हे अल्लाह तू क्षमा करने वाला है,क्षमा को प्रिय रखता है,तू हमें भी क्षमा कर दे... ऐ अल्लाह तू ने हमें खबर दी है कि तू अधिक क्षमा करने वाला और अधिक दयालू है... {मेरे बंदों को खबर कर दो कि मैं बहुत माफ करने वाला और बहुत रहम करने वाला हूँ“।}[अल हिज्रः 49].

तो हम पर कृपा कर,और ऐ क्षमा करने वाले हमें क्षमा कर दे।

बेशक अल्लाह तआला अल अफ्व अल ग़फूर और अल गफ्फार है..





Tags:




img_alt6