प्रोफ़ेसर यो शेवदी कोज़ान

img_alt6

35
  • भ्रूण का विवरण
  • मुझे इस बात को स्वीकार करने में दुविधा नही होती है कि ख़ुरआन ईशवर की वाणी है। क्यों कि ख़ुरआन ने भ्रूण के बारे में जो विवरण किया है, उनको सात्वीं सदी कि विज्ञानिक खोज पर आधारित करना संभव नही है। एक ही उचित परिणाम यह है कि ये विवरण ईशवर द्वारा मुहम्मद की ओर वह्यी (रहस्योद्घाटन) हुई हैं।











बैबल मुहम्मद की शुभ सूचना देता है