व्लोरावीशा फाग्लेरी

img_alt6

32
  • सच्ची एकीकरण (तौहीद)
  • अरबी रसूल मुहम्मद (स) ने प्रेरणादायक आवाज़ से अपने ईश्वर के साथ गहरा संबंध रखने की ओर बुलाया। मूर्ती पूजा करनेवालों, ईसाइयत और यहूदियत के मानने वालों को सच्ची एकीकरण सिध्दांत की ओर बुलाया। आप इस बात पर सहमत थे कि वह मानव प्रतिक्रियावादी प्रवृत्तियाँ जो मानव को प्रजापति ईश्वर के साथ और अन्य ईश्वर पर विश्वास रखने कि ओर बुलाते हैं। ऐसे प्रवृत्तियों के साथ खुला संघर्ष करने पर आप सहमत थे।


  • इस्लाम का विश्व विख्यात
  • निस्संदेह यह ख़ुरआन की वह आयत (वाक्य) जो ईशवर द्वारा सारे संसार के लिए दयालुता बनाकर भेजे गये रसूल पर अवतरित धर्म का विवरण करते हुए इस्लाम की विश्व विख्यात का संकेत दिया है, यह सारे संसार के लिए सीदी सदा है। यह इस बात का खुला सबूत है कि रसूल को यह यक़ीन था कि उनका संदेश अरब ख़ौम की सीमायें पार कर जायेगा, और इस बात की अवश्यकता है की वह अपने इस नये संदेश को उन ख़ौमों तक भी पहुँचाए, जिनका संभन्ध अलग अलग ज़ात से है और जो विभिन्न प्रकार की भाषाएँ बोलती है।











 अल्लाह तआला अल मुक़ीत है..