अन्याय से पीडित महिला

अन्याय से पीडित महिला

31
मैं और मेरा दिल बध्दिमत्ता और ज्ञान को खोजने, ढूँढ़ने, और जानने के लिए निकले, और यह ज्ञान प्रदान करने के लिए कि बुराई अज्ञान है, और मूर्खता पागलपन है, मेरी यह भावना है कि मृत्यु से अधिक कडवी वह औरत है जो जाल है, उसका दिल जंजीर है, और उसके हाथ बेडियाँ है )7(जामिया-





Tags:




Karim Mansouri