मुहम्मद के ईश देवत्व का संदेश

मुहम्मद के ईश देवत्व  का संदेश

131
मुहम्मद ने अपने सारे जीवन को अरब समाज में अपने संदेश के दो पक्षों को उपयुक्त बनाने में लगा दिया। वह दो पक्ष यह हैः धार्मिक विचारों में समानता और शासन के नियम और विधी में समान्ता। निश्चय इस्लाम धर्म के संपूर्ण नियमों के कारण यह दो चिज़ें उपयुक्त हो गई, क्योंकि इस्लाम अपने अंदर एक ही समय में एकता और प्राधिकरण का अधिकार रखता है। इसी कारण इस्लाम के भीतर ऐसी शक्तिशाली प्रेरणा पैदा हो गई, जिसने एक अज्ञानी समुदाय को सभ्य समुदाय बनादिया ।





Tags:




Abdullah Basfar - Quran Downloads