सौभाग्य का मार्ग

सौभाग्य का मार्ग

69
मुझे कभी सौभाग्य का ज्ञान नही था। जबसे मैं खुरान पढ़ना आरंभ किया तो मैं अपने आप से सवाल करने लगा और विस्मय करने लगा कि क्यों लोग इस संसार में गुमराह हो रहे हैं। जब कि प्रमाण उनके सामने है और प्रकाश उनके पास है।





Tags:




अपनी दिशा निर्ध्ररण करले।