islamkingdomfaceBook islamkingdomyoutube


(ऐ रसूल) तुम कह दो कि ख़ुदा एक है

ख़ुदा बरहक़ बेनियाज़ है

न उसने किसी को जना न उसको किसी ने जना,

और उसका कोई हमसर नहीं

(ऐ रसूल) तुम कह दो कि मैं सुबह के मालिक की

हर चीज़ की बुराई से जो उसने पैदा की पनाह माँगता हूँ

और अंधेरीरात की बुराई से जब उसका अंधेरा छा जाए

और गन्डों पर फूँकने वालियों की बुराई से

(जब फूँके) और हसद करने वाले की बुराई से

(ऐ रसूल) तुम कह दो मैं लोगों के परवरदिगार

लोगों के बादशाह

लोगों के माबूद की (शैतानी)

वसवसे की बुराई से पनाह माँगता हूँ

जो (ख़ुदा के नाम से) पीछे हट जाता है जो लोगों के दिलों में वसवसे डाला करता है

जिन्नात में से ख्वाह आदमियों में से